ज़ाहिर करे | Zahir Kare Lyrics – प्रणय बहुगुणा 2021

0
1504
Zahir Kare
गाण्याचे शीर्षक:ज़ाहिर करे
गायक:प्रणय बहुगुणा
गीत:कुमार
संगीत लेबल:झी म्यूझिक कंपनी

https://www.youtube.com/watch?v=hJKvkdN40ZU

Zahir Kare Lyrics in Hindi

किस तरह तुम्हें बतायें
और कितना तुमको चाहें
एक तुम हो ज़रूरी
बात कैसे ये छुपायें
हो…

ज़ाहिर करे ये आँखें मेरी
करता है दिल बातें तेरी
ज़ाहिर करे ये आँखें मेरी
करता है दिल बातें तेरी

मुझमें मेरा क्या है बता
तेरी हुई अब साँसें मेरी
मुझमें मेरा क्या है बता
तेरी हुई अब साँसें मेरी

तेरी इजाज़त बिना
एक पल भी मैं ना जियूं
तू ही सफ़र है मेरा
तेरी तरफ़ ही चलूं

इश्क़ है जो तेरा
है वो सब कुछ मेरा
अब बिन तेरे कुछ भी नहीं

ज़ाहिर करे ये आँखें मेरी
करता है दिल बातें तेरी
ज़ाहिर करे ये आँखें मेरी
करता है दिल बातें तेरी

मुझमें मेरा क्या है बता
तेरी हुई अब साँसें मेरी

Zahir Kare Lyrics in English

More Song:

Zahir Kare

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here