ये मन Yeh Mann Lyrics – जन्नत झुबैर 2020

0
667
Ye-Mann

ये मन इस गाने की गायिका आकांक्षा शर्मा ये हैं। साथ ही इस गीत के शब्द धनराज दाधीच ने लिखे हैं। और यह गीत झी म्यूझिक कंपनी प्रसारित द्वारा किया गया है।

गाण्याचे शीर्षक:ये मन
गायक:आकांक्षा शर्मा
संगीत:कपिल जांगिर
गीत:धनराज दाधीच
संगीत लेबल:झी म्यूझिक कंपनी

Yeh Mann Lyrics in Hindi

कभी कभी उड़ने को करता मन मेरा
कभी कभी बेवजह ही मुस्कुराने लगे
कभी कभी आइनों से बातें कर रहा
कभी कभी गीत कोई गुनगुनाने लगे

तेरी चाहत है या शोहबत
कुछ समझ ना आ रहा
ये मन बावरा हुए ही जा रहा
ये मन बावरा हुए ही जा रहा
ये मन बावरा हुए ही जा रहा

सजने लगी हु संवारने लगी हूँ
बिना बात यूँ ही हँसने लगी हूँ
नही होश मुझको ना फिकर कोई
मिल जाये तेरा ज़िक्र कोई

जाने क्यों आहें भरने लगी हूँ
मुझपे अब तेरा नशा है छा रहा
ये मन बावरा हुए ही जा रहा
ये मन बावरा हुए ही जा रहा
बावरा हुए ही जा रहा
ये मन बावरा हुए ही जा रहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here