कबूल है | Qubool Hai 2.0 Title Track Lyrics – Zee5

0
936
Qubool Hai 2.0
गाण्याचे शीर्षक:कबूल है
गायक:कायसे
गीत:अभिज्ञान झा
संगीतकार:कायसे
संगीत लेबल:झी म्यूझिक कंपनी

Qubool Hai 2.0 Lyrics in Hindi

यही है वो पल
सांसे थम चल हर कदम
कब कहा काइनात चाहे बदल

रब सून मेरे दिल की धडकन
क्यू की यही है वो पल

शुरू होने से पेहेले
खतम हो कहाणी
अब चाहे जो मांगू लु
कुरबानी

मे हाजीर हु
मानू लो सितारो की
भूल है
तुम अगर साथ हो
मुझे हर कयामत
कबूल है कबूल है

मोहब्बत मुझ पे यकीन कर ले
इनायत नही मुझे कोई र बसे
शिकायत नही मुझे कोई रब से
कयामत कूछ नही तेरी बाहो मे

खतम होके भी शुरू होगी कहाणी
अब चाहे जो मांगू लो कुरबानी

मे हाजीर हु
जुदा कर ना
सर हदो का उसूल है

तुम अगर साथ हो
मुझे हर कयामत
कबूल है कबूल है
कबूल है कबूल है

यही है वो पल मुझे दे खलो
यही है वो पल मे हाजीर हु

Qubool Hai 2.0 Lyrics in English

More Song:

Qubool Hai 2.0

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here