कैद नही है – Qaid Nahi Hai Lyrics – राजीव श्रीवास्तव

0
551
Qaid-Nahi-Hai

कैद नही है इस गाने की गायक रिषभ श्रीवास्तव, ज्योतिका टांगरी, प्रीतिक्षा श्रीवास्तव आणि शिवांगी भयाना ये हैं। साथ ही इस गीत के शब्द राजीव श्रीवास्तव ने लिखे हैं। और यह गीत झी म्यूझिक कंपनी प्रसारित द्वारा किया गया है।

गाण्याचे शीर्षक:कैद नही है
गायक:रिषभ श्रीवास्तव, ज्योतिका टांगरी, प्रीतिक्षा श्रीवास्तव आणि शिवांगी भयाना
गीत:राजीव श्रीवास्तव
संगीतकार:रिषभ श्रीवास्तव
दिग्दर्शक:सॅम चौधरी
संगीत लेबल:झी म्यूझिक कंपनी

Qaid Nahi Hai Lyrics in Hindi

आया तुफान है
मुश्कील मे जान है
कष्टी ये दुबे ना
माझी हैराण है वे

डर जान अंधेरो से
मेरी फितरत तो नही
सिर्फ उजाळा हि हु जीवन
ये हसरत भी नही
मिल जुल के काट लेंगे ये रात भी

कैद नही है
धैर्य का दौर है ये
है लंबी काळी रात
बाकी थोडी और है ये
अभी बाकी थोडी और है ये

हर इम्तेहा को
मंजिल बनाये है
काटो पे चलना
खुद को सिखाया है

है रात लंबी लेकीन सुबह होगी
और जीवन कि नदी मे लेहेर होगी
मिल जुल के काट लेंगे ये रात भी

कैद नही है
धैर्य का दौर है ये
है लंबी काळी रात
बाकी थोडी और है ये
अभी बाकी थोडी और है ये

डर जाना अंधेरो से
मेरी फितरत तो नही
सिर्फ उजाळा हि हु जीवन
ये हसरत भी नही
है लंबी काळी रात
बाकी थोडी और है ये

कैद नही है
धैर्य का दौर है ये
धैर्य का दौर है ये
अभी बाकी थोडी और है ये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here