पेहला प्यार Pehla Pyar Lyrics – Summary – Chapter 04

0
235
Pehla
गाण्याचे शीर्षक:पेहला प्यार
अल्बम:Summary – Chapter 04
गायक:गजेंद्र वर्मा
संगीत: गजेंद्र वर्मा
गीत:गजेंद्र वर्मा
संगीत लेबल:गजेंद्र वर्मा

Pehla Pyar Lyrics in Hindi

अब ना रुकेंगे
अब और ना सेह पायेगा दिल ये
अब ना रुकेंगे
अब और ना सेह पायेगा
साथ सिखे हमने जिंदगी के, माईने सभी
साथ देखे थे जो सारे सपने अब कूछ नही

तू चली जा पर भूल ना
के मे हु तेरा पेहला प्यार
दिल तो मजबूर था के चल पडा तेरी और हि
हर बार मेरे यार दिलदार
हर बार मेरे यार दिलदार
हर बार मेरे यार दिलदार

कैसी ये जुदाई है
आंख भर आयी है
ओ वे रब्बा तेरी कैसी
ये खुदाई है
कैसे ये जुदाई है
आंख भर आयी है
प्यार की दुनिया तुने
ऐसी क्यू बनाई है

अब यहा क्या रखा है
क्या मे समझाऊ दिल को
किस तरह से बता दे अब भुला दु मै तुमको
ठीक है तुम से क्या मे कहु
बस बता कैसे तुझ बिन रहू

तू चली जा पर भूल ना
के मै हु तेरा पेहला प्यार
दिल तो मजबूर था के चल पडा तेरी और हि
हर बार मेरे यार दिलदार
हर बार मेरे यार दिलदार

कैसी ये जुदाई है
आंख भर आयी है
ओ वे रब्बा तेरी कैसी
ये खुदाई है
कैसे ये जुदाई है
आंख भर आयी है
प्यार की दुनिया तुने
ऐसी क्यू बनाई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here