फुरसत है आज भी Fursat Hai Aaj Bhi Lyrics – अर्जुन कानुंगो

0
805
Fursat-Hai-Aaj

फुरसत है आज भी इस गाने की गायिका अर्जुन कानुंगो ये हैं। साथ ही इस गीत के शब्द मयूर पुरी ने लिखे हैं। और यह गीत VYRLOriginals प्रसारित द्वारा किया गया है।

गाण्याचे शीर्षक:फुरसत है आज भी
गायक:अर्जुन कानुंगो
संगीत:अर्जुन कानुंगो
गीत:मयूर पुरी
संगीत लेबल:VYRLOriginals

Fursat Hai Aaj Bhi Lyrics in Hindi

भूलना क्या, भूलाना क्या
रूठना क्या, मनाना क्या
दिल को बहलाने का
और बस है बहाना क्या

ज़िन्दगी का ठिकाना क्या
दिल कभी था सयाना क्या
रूह में तू है महफूज़
फिर तेरा जाना क्या

तुझे खोया नहीं था कभी
तू है यहीं कहीं आज भी

फुरसत का जो हर लम्हा है
मुझसे बस ये कहता है
आदत तेरी बातों की आज भी
हाँ, आज भी

तेरी आँखों ने जो देखे थे
मेरी आँखों में वो सपने हैं
सरहद नहीं ख्वाबों की आज भी
तू है आज भी

बिन बुलाये ये आना क्या
आ गए तो है जाना क्या
तेरी यादों से बेहतर है
दिल का ठिकाना क्या

तेरे मेरे वो पल मीठे
कम लगे साथ जो बीते
पर तू है दूर ये मेरी
आँखों ने माना क्या

हम्म तुझे भूला नहीं था कभी
तू है मेरे करीब आज भी

फुरसत का जो हर लम्हा है
मुझसे बस ये कहता है
आदत तेरी बातों की आज भी
मम्म.. आज भी

तेरी आँखों ने जो देखे थे
मेरी आँखों में वो सपने हैं
सरहद नहीं ख्वाबों की आज भी
तू है आज भी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here