दिल अपनी हदो से – Dil Apni Haddon Se Lyrics – व्हर्जिन भानुप्रिया

0
536
Dil-Apni

दिल अपनी हदो से इस गाने की गायक ज्योतिका टांगरी ये हैं। साथ ही इस गीत के शब्द मनोज यादव ने लिखे हैं। और यह गीत झी म्यूझिक कंपनी प्रसारित द्वारा किया गया है।

गाण्याचे शीर्षक:दिल अपनी हदो से
गायक:ज्योतिका टांगरी
गीत:मनोज यादव
संगीत लेबल:झी म्यूझिक कंपनी

Dil Apni Haddon Se Lyrics in Hindi

दिल अपनी हदो से निकल कर
तरी हद मे जा बैठा है
जा बैठा है

दिल अपनी हदो से निकल कर
तरी हद मे जा बैठा है
जा बैठा है

बस इसी जिद मे उलझकर
हर हाल तू
तू मेरा है
तू मेरा है

तू मुझको ओह जिने ना दे
मे तुझको ओह जिने ना दु
ये इश्क है तो इश्क है
और कुछ भी होने ना दु

मे मुझको ओह खोने ना दु
टू हि टू ओ होने लागू
ये इश्क है तो इश्क है
और कुछ भी होणे ना दु

दिल अपनी हदो से निकल कर
तेरी हद मे जा बैठा है
जा बैठा है

दरिया सी बेह ना जाऊ
तेरा मे किनारा चाहु
थाम ले आ थाम ले तू मुझको
खुद को गवाना चाहु

तुझमे समाना चाहु
भर ले ना बाहो मे मुझको
दरिया सी बेह ना जाऊ
तेरा मे किनारा चाहु

थाम ले आ थाम ले तू मुझको
खुद को गवाना चाहु
तुझमे समाना चाहु
भर ले ना बाहो मे मुझको

हा मौका भी है मर्जी भी है
दोनो भी है
मन तेरा भी है मेरा भी है
पागलपन करे चल

तू मुझको ओह जिने ना दे
मे तुझको ओह जिने ना दु
ये इश्क है तो इश्क है
और कूछ भी होने ना दु

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here