आज फिर से Aaj Phir Se Lyrics – Summary – Chapter 05

0
319
Aaj Phir Se
गाण्याचे शीर्षक:आज फिर से
चित्रपट:Summary – Chapter 05
गायक:गजेन्द्र वर्मा
संगीत: गजेन्द्र वर्मा
गीत:गजेन्द्र वर्मा
संगीत लेबल:गजेन्द्र वर्मा

Aaj Phir Se Lyrics in Hindi

तेरे कानो के पिछे
मेरा हाथ हो
बस सांसो सांसो मे
सारी बात हो

छुप जाऊन सिने मे
किसी को ना मिलू
तेरी बाहो को अपना
घर मे मान लु

आज इस छत पे
चांद तारे लगेंगे
तेरी पनाह मे
आज हम भी प्यारे लगेंगे

और उनके नीचे
दो दिल हमारे मिलेंगे
तेरी पनाह मे
आज हम भी प्यारे लगेंगे

जब डूबने लगू
दुनिया कि भिड मे
बस छु के हि मुझे
तेरी ओर खीच ले

संगर्ष तू मेरा
तुझसे है जीत भी
मेरा होना भी तुझसे
तुझसे संगीत भी

आज इस छत पे
चांद तारे लगेंगे
तेरी पनाह मे
आज हम भी प्यारे लगेंगे

और उनके नीचे
दो दिल हमारे मिलेंगे
तेरी पनाह मे
आज हम भी प्यारे लगेंगे

तुझे जी भर के देख लु
तेरी सांसो का घुट लु
आज फिर से मे जीत लु

अब जो भी होना है हो
बस अपने दिल कि सुनो
बाकी मुझपे सब छोड दो

करुंगा मे तेरा इंतेजार
काम ना होने दुंगा ये प्यार
हम मिलेंगे फिर इक बार

फिर से इस छत पे
चांद तारे लगेंगे
तेरी पनाह मे
आज हम भी प्यारे लगेंगे

और उनके नीचे
दो दिल हमारे मिलेंगे
तेरी पनाह मे
आज हम भी प्यारे लगेंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here