ज़िन्दगी – Zindagi Lyrics in Hindi – राज ३ (2012)

0
888
ZINDAGI
गाण्याचे शीर्षक:ज़िन्दगी
फिल्म:राज ३
गायक:शफाकत अली
संगीत:जीत गांगुली
गीत:संजय मासूम
संगीत लेबल:टी-मालिका

ज़िन्दगी फिल्म राज ३ का गीत है। इस गाने की गायिका शफाकत अली ये हैं। साथ ही इस गीत के शब्द संजय मासूम ने लिखे हैं। और यह गीत टी-मालिका द्वारा किया गया है।

Hindi Lyrics

ज़िन्दगी से चुरा के
ज़िन्दगी में बसा के
जिंदगानी बनाया है तुझे
रूठे रब को मना के

आसमा को झुका के
जिंदगानी बनाया है तुझे
तू मिला जिस तरह सबा मिले
तू मिला जिस तरह सिला मिले

तू मिला जिस तरह दुआ मिले बाखुदा
तू मिला तो जैसे मैं जी गया
तू मिला मुकम्मल मैं हो गया
तू मिला तो फैला है नूर सा बाखुदा

ज़िन्दगी से चुरा के
ज़िन्दगी में बसा के
जिंदगानी बनाया है तुझे

महफूज़ तू महसूस कर, तेरे पास हूँ मैं सदा
तुझसे नहीं हो सकता मैं पल भर भी अब जुदा
अब साथ हैं हम इस तरह आँखों के संग पलके
अब वक़्त को ये बात हम इक बार फिर से कह दें

सारे गम को छुपा के
हर नज़र से बचा के
जिंदगानी बनाया है तुझे
तू मिला जिस तरह सबा मिले

तू मिला जिस तरह सिला मिले
तू मिला जिस तरह दुआ मिले बाखुदा
तू मिला तो जैसे मैं जी गया
तू मिला मुकम्मल मैं हो गया

तू मिला तों फैला है नूर सा बाखुदा
बाँहों में आ हो जायेंगे शिकवे सभी खुद फन्ना
होठों से मैं तुझको सुनु आँखों से तू कुछ सूना
तू अक्स है मैं आइना फिर क्या है सोचना

इक दूसरे में खो के है इक दुसरे को पाना
किस्मतों को जगा के हर जहाँ को हारा के
जिंदगानी बनाया है तुझे
तू मिला जिस तरह सबा मिले
तू मिला जिस तरह सिला मिले

तू मिला जिस तरह दुआ मिले बाखुदा
तू मिला तो जैसे मैं जी गया
तू मिला मुकम्मल मैं हो गया
तू मिला तों फैला है नूर सा बाखुदा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here