हाल-ए-दिल – Haal-E-Dil Lyrics in Hindi – मर्डर 2 (2011)

0
1254
hal-e-dil
गाण्याचे शीर्षक:हाल-ए-दिल
फिल्म:मर्डर 2
गायक:हर्षित सक्सेना
गीत:सईद कादरी

Hindi Lyrics

ऐ काश, काश यूँ होता
हर शाम, साथ तू होता
चुप चाप, दिल ना यूँ रोता
हर शाम, साथ तू होता..

गुज़ारा हो तेरे, बिन गुज़ारा
अब मुश्किल है लगता
नज़ारा हो तेरा, ही नज़ारा
अब हर दिन है लगता..

हाल-ए-दिल तुझको सुनाता
दिल अगर ये बोल पाता
बाखुदा तुझको है चाहता जां
तेरे संग जो पल बिताता

वक़्त से मैं वो मांग लाता
याद करके मुस्कुराता हाँ
वो हो हो… हो हो वो हो…

तू मेरी राह का सितारा
तेरे बिना हूँ मैं आवारा
जब भी तन्हाई ने सताया
तुझको बे साखता पुकारा

चाहत है मेरी ला फ़ना
पर मेरी जां दिल में हूँ रखता
हाल-ए-दिल तुझको सुनाता
दिल अगर ये बोल पाता

You’re till me, I love whats meant to be
I know you feel it too..Each time I look at you
ख्वाबों का कब तक लूं सहारा
अब तो तू आ भी जा खुदारा

मेरी ये दोनों पागल आँखें
हर पल मांगे तेरा नज़ारा
समझाऊं इनको किस तरह
इनपे मेरा बस नहीं चलता

हाल-ए-दिल तुझको सुनाता
दिल अगर ये बोल पाता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here