भांग रगड़ के – Bhaang Ragad Ke Lyrics in Hindi – लाल रंग 2016

0
2813
bhaang-ragad-ke
गाण्याचे शीर्षक:भांग रगड़ के
फिल्म:लाल रंग
गायक:विकास कुमार, विपिन पटवा
संगीत:विपिन पटवा

Hindi Lyrics

तू राजा की राजदुलारी, मैं सिर्फ लंगोटे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु

भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु

तेरे सौ सौ दासी दास रहे, मेरे इक भी दासी दास नहीं
क्यां के सारे जी लावेगी, सतरंज छोपड़ तास नहीं
तू स्याल दुसाले ओढ़न आली, मेरा कम्बल तक भी पास नहीं
तू बाघन की कोयल से अड्डे, बरफ पड़े हरी घास नहीं

तू सहकारी गुजरे आली, मैं खासी कोटे आला सु
भांग रगड़ के रे, भांग रगड़ के रे
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु

भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु

मैं अवदूत दरसनी बाबा, राग देख के डर जाएगी
पछ दुनिया के बीच टप्पू मेरी, आग देख के डर जाएगी
मैं तो राख घोल के पिया करू
मेरी भाग देख के डर जाएगी

मेरे सो सो नाग पड़े रहे घर में, नाग देखके डर जाएगी
एक कर मंडल एक कटोरा, मैं फूटे लौटे आला सु
भांग रगड़ के रे, भांग रगड़ के रे
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु

भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु

किस्से राजा गेल्या सधी करादयो, यो मेल मिलाना ठीक नहीं
जून सा खेल खिलाना चाहो, खेल खिलाना ठीक नहीं
जिसकी दोनों धर हो पानी, सेल चलाना ठीक नहीं
मैं भांग धतूरा पिया करू, मन्ने तेल पिलाना ठीक नहीं

मांगे राम बोच मरजंगी मैं जबर भरौटे आला सु
भांग रगड़ के रे, भांग रगड़ के रे
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु
भांग रगड़ के पिया करू मैं कुण्डी सट्टे आला सु

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here