देखा हज़ारों दफ़ा – Dekha Hazaro Dafa Lyrics in Hindi – रुस्तम 2016

0
2027
dekha-hazaro-dafaa
गाण्याचे शीर्षक:देखा हज़ारों दफ़ा
फिल्म:रुस्तम
गायक:अरिजीत सिंग, पलक मुचल
संगीत:जीत गांगुली
गीत:मनोज मुंताशिर

देखा हज़ारों दफ़ा फिल्म रुस्तम का गीत है। इस गाने की गायिका अरिजीत सिंग, पलक मुचल ये हैं। साथ ही इस गीत के शब्द मनोज मुंताशिर ने लिखे हैं।

Hindi Lyrics

देखा हज़ारों दफ़ा आपको
फिर बेक़रारी कैसी है
संभाले संभलता नहीं ये दिल
कुछ आप में बात ऐसी है

लेकर इजाज़त अब आप से
सांसें ये आती जाती है
ढूंढें से मिलते नहीं हैं हम
बस आप ही आप बाकी हैं

पल भर ना दूरी सहें आप से
बेताबियां ये कुछ और हैं
हम दूर होक भी पास हैं
नजदीकियां ये कुछ और हैं

देखा हज़ारों दफ़ा आपको
फिर बेक़रारी कैसी है
संभाले संभलता नहीं ये दिल
कुछ आप में बात ऐसी है

आगोश में है जो आपकी
ऐसा सुकून और पायें कहाँ
आँखें हमें ये रास आ गयी
अब हम यहाँ से जायें कहाँ

देखा हज़ारों दफ़ा आपको
फिर बेक़रारी कैसी है
संभाले संभलता नहीं ये दिल
कुछ प्यार में बात ऐसी है
हम्म..

फिर बेक़रारी कैसी है हम्म..
कुछ प्यार में बात ऐसी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here