अधुरी जिंदगी – Adhuri Zindagi Lyrics in Hindi – तेरा सूरूर 2016

0
1117
adhuri-zindagi
गाण्याचे शीर्षक:अधुरी जिंदगी
चित्रपट:तेरा सूरूर (2016)
गायक:रीतुराज मोहंती
संगीत:हिमेश रेशमिया
गीत:समीर अंजन

अधुरी जिंदगी फिल्म तेरा सूरूर का गीत है। इस गाने की गायिका रीतुराज मोहंती ये हैं। साथ ही इस गीत के शब्द समीर अंजन ने लिखे हैं।

Marathi Lyrics

दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी

अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी

अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल

जब भी कभी फलक पे नज़र जो गयी
तो सोचा मैंने हर पल यही तू है खुदाया
मुसलसल यही चले हैं अरमानो मे भी
गुफ्तगू तूने जो की दिल को रुलाया

सजदो में जब भी तेरा ही नाम लेके ये सर झुकाया
तेरे ही अश्को में मैंने हैं क्यूँ अपना ही अक्श पाया
दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी

अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल

अक्सर यहाँ मिला हैं सबको ही दगा
मगर मुझको हैं मिली तेरी पनाहे
फिरता कहा मैं दर-दर तनहा यहाँ
जो रेहती ना यु मेरे संग तेरी दुआए

माज़ी की यादे जलती हैं साथ मुश्किल तुझे भुलाना
मुझको ये राते देती हैं ज़खम, मरहम मुझे लगाना
दिल अकेला हैं बड़ा, क्यूँ रहू मैं तनहा
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी

अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
ये इल्तेजा हैं तुझसे मेरी
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल
अधूरी ज़िन्दगी हैं, तू करदे मुकम्मल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here